gemhospitalbti@gmail.com +91 98723 44833 ISO 9001:2015 Certified Hospital
×

Kindly fill in your details

Request Call Back

Kindly fill in your details

वाइट डिस्चार्ज क्या होता है? किन स्थितियों में यह नार्मल होता है और असामन्य डिस्चार्ज का इलाज किस प्रकार किया जाता है?

वाइट डिस्चार्ज क्या होता है? किन स्थितियों में यह नार्मल होता है और असामन्य डिस्चार्ज का इलाज किस प्रकार किया जाता है?

जानिए वाइट डिस्चार्ज के बारे में!

Quick Inquiry

क्या आप जानते है की योनि से निकलने वाले सफ़ेद पानी को क्या कहते है?

White Discharge – Sexual Problem in females

अँग्रेजी में इसे वाइट डिस्चार्ज के नाम से जाना जाता है| यह योनि को साफ़ रखने का एक प्राकृतिक तरीका है| जब भी स्त्री और पुरुष सम्भोग करते है, तो यह सफ़ेद पानी चिकनाहट प्रदान करके यौन संक्रमण में सहायक होता है|

सफ़ेद पानी से जुडी शिकायतें

जैसे की हम जानते है की अति प्रत्येक चीज़ की बुरी होती है| अगर तो सफ़ेद पानी एक नार्मल मात्रा में योनि से निकले तो यह चिंताजनक बात नहीं है| परन्तु वही अगर यह डिस्चार्ज ज़्यादा मात्रा में होने लगे तो यह एक समस्या का रूप धारण कर लेती है|

क्या आप जानते है?

अपने जीवनकाल में प्रत्येक स्त्री को वाइट डिस्चार्ज से जुडी समस्याओं का सामना कभी न कभी करना पड़ता है| कुछ स्थितियों में यह बिलकुल ही नार्मल माना जाता है, परन्तु कुछ और स्थितियों में यह आपकी खराब की निशानी होती है|

आइये जानते है वे ऐसी कौनसी स्थितियां हैं जिनमे वाइट डिस्चार्ज बिलकुल नार्मल होता है:

आखिर कब होती है इसकी शुरवात?

वाइट डिस्चार्ज तब होता है जब लड़कियों को अपने पहले पीरियड्स आ चुके होते है| उसके बाद, हर महीने, मासिक धर्म से पहले, आप सफ़ेद पानी को अपने undergarments पर देखने की आशंका कर सकते है|

गर्भावस्था या होर्मोनेस में बदलाव

गर्भावस्था में वाइट डिस्चार्ज की मात्रा कम या ज़्यादा हो सकती है, परन्तु आपको इस पर अच्छी तरह ध्यान देना चाहिए और डॉक्टर्स को इसकी मात्रा के काम या ज़्यादा होने पर निरंतर आगाह करते रहने चाहिए|

पीरियड्स के पहले और जवानी के चरण में एक लड़की के शरीर में कई तरह के बदलाव आते है, जिनमे से प्रमुख है होर्मोनेस (Hormones)| जब होर्मोनेस में बदलाव आता है, तो योनि में इन्फेक्शन्स की वजह से डिस्चार्ज के रंग में भिन्नता पाई जा सकती है|

किस रंग का डिस्चार्ज नार्मल श्रेणी में आता है?

यह पाया गया है की कई महिलाओं को पीरियड्स के दौरान भी वाइट डिस्चार्ज होता है| यदि सामान्य तौर पे देखा जाये तो एक चमच के बराबर डिस्चार्ज एक दिन में हो तो यह नार्मल कहलाता है| यह गाढ़ा भी हो सकता है और पतला भी| यदि यह बिलकुल सफ़ेद या हल्के पीले रंग का हो तो इसे नार्मल कहा जायेगा| लेकिन अगर आपके डिस्चार्ज से गन्दी बदबू आ रही तो यह किसी भी हालत में नार्मल नहीं है और आपको तुरंत ही डॉक्टर से संपर्क करना चाहिए|

किन कारणों की वजह से आपको समस्यापूर्ण डिस्चार्ज हो सकता है?

निम्नलिखित फैक्टर्स आपके डिस्चार्ज को असामान्य बना सकते है|

  • योनि की सफाई न रखना|
  • नए पुरुष के साथ यौन सम्बन्ध बनाना|
  • किसी स्थिति में ज़्यादा घबराहट होना|
  • बारबार गर्भपात करवाना|
  • शरीर में जरुरी पोषक तत्वों की कमी होना|
  • अधिक मात्रा में एंटीबायोटिक्स या फिर स्टेरॉइड्स का उपयोग करना|

इलाज

  • स्त्रियों को अपने खाने में दही ज़रूर शामिल करना चाहिए|
  • प्रत्येक स्त्री को ऐसे भोजन का सेवन करना चाइये जिसमे लहसुन का उपयोग हुआ हो|
  • यदि पिसे हुए गुलाब के पत्तों का सेवन दूध के साथ किया जाये (दिन में एक से अधिक बार), तो योनि से बदबू वाली समस्या छू मंतर हो सकती है|

दिन में एक बार निम्नलिखित सब्ज़ियों का जूस ज़रूर पीना चाहिए

  • गाजर
  • मूली
  • चुकुन्दर