gemhospitalbti@gmail.com +91 98723 44833 ISO 9001:2015 Certified Hospital
×

Kindly fill in your details

Request Call Back

Kindly fill in your details

किन कारणों की वजह से आपको पीरियड्स (माहवारी) आने में देर हो सकती है? ऐसा न हो, इसके लिए क्या करना चाहिए?

किन कारणों की वजह से आपको पीरियड्स (माहवारी) आने में देर हो सकती है? ऐसा न हो, इसके लिए क्या करना चाहिए?

माहवारी के देर से आने के कारण और निवारण!

Quick Inquiry

क्या आपको भी माहवारी जिसे हम अंग्रेजी में पीरियड्स कहते है, देर से आती है? यदि हाँ तो इसके कारणों के बारे में जानिये, जो कि IVF Centre in Punjab के फर्टिलिटी स्पेशलिस्ट्स द्वारा प्रस्तुत किये गए है| यदि आपको माहवारी देर से आती है, तो यह इनफर्टिलिटी की और इशारा भी कर रही हो सकती है| यदि तो यह इनफर्टिलिटी की समस्या को जन्म दे रही है तो आपको Test tube baby cost के बारे में पता कर लेना चाहिए , क्योंकि ऐसी स्तिथि में IVF और अन्य ART (Assisted reproductive technologies) के इलावा आपकी सहायता कोई Procedure नहीं कर सकता|

तो चलिए जानते है हम पीरियड्स देर से आने के कुछ कारणों के बारे में:

यह normal है!

क्या जब आपको पीरियड्स हर महीने एक ही तारीख पर नहीं आते, तो आप चिंतित हो जाती है? यदि हाँ तो आपको चिंता करने की कोई ज़रूरत नहीं है| क्योंकि यह जरूरी नहीं कि पीरियड्स हर महीने एक सामन्य तारिख पर ही आएं|

  • माहवारी की शुरुवात का जल्द होना

यदि कोई लड़की को १० साल की उम्र से पहले ही पीरियड्स शुरू हो गए है, तो यह अनियमिता पैदा करने का एक बहुत बड़ा कारण है|

  • वजन का लगातार बढ़ना

यदि आपका वजन लगातार बढ़ रहा है, या आप मोटापे की समस्या का सामना कर रहे है, तो अन्य शारीरिक समस्याओं के साथ आपको पीरियड्स का सामना भी करना पड़ सकता है|

  • PCOS (Polycystic Ovarian Syndrome)

आज कल अधिकतर महिलाएं इस समस्या का सामना कर रही है जिसे हम पॉलिसिस्टिक ओवरी सिड्रोम| इस सिंड्रोम के पाए जाने का एकमात्र कारण है पीरियड्स में देरी|

  • तनाव और थका देने वाला व्यायाम

यदि तो आप बहुत ज़्यादा तनाव से ग्रस्त रहते है और या अधिक एक्सरसाइज करते है (जो की आपको बहुत थका देती है). तो भी आपको माहवारी देर से आ सकती है|

ध्यान रखियेगा!

यदि आपको १ महीने से ज्यादा माहवारी देर से आ रही है तो आपको तुरंत डॉक्टर से संपर्क करना चाहिए|

इन बातों के ध्यान रखेंगे तो नहीं होगी देर से आने वाली महावरी की समस्या!

  • खान पान का ध्यान रखें

सबसे पहले तो महिलाओं को अपने खान पान का अधिकतर ध्यान रखना चाहिए| कोशिश कीजिये की आप ज़्यादा तला हुआ और मसालेदार खाना न खाएं|

ऐसा खाना न केवल माहवारी आने में विलम्भ करवाएगा, अपितु यह आपकी प्रजनन क्षमता को भी कम कर देता है|

  • नियमित रूप से व्यायाम या योग करें

आपके लिए यह ज़रूरी है कि आप नियमित रूप से योग और व्यायाम करें| यदि आप अपने शरीर को स्थिर रखेंगे और बिलकुल भी हिलाएंगे डुलायेंगे नहीं, आपकी शारीरिक, मानसिक और प्रजनन शमता निरंतर कम होती जाएगी|

  • अपने वजन को कम करें

सबसे पहले तो आपको जरुरत है की आप अपने वजन को विनियमित करें| यदि आप अपने वजन को कण्ट्रोल में नहीं रखेंगे तो समभावना है की आपको पीरियड्स की दिक्कत के साथ साथ प्रेगनेंसी में भी दिक्कत आएगी| अधिकतर महिलाओं में यह पाया गया है यदि उनका वजन जरुरत से अधिक ज्यादा या कम होता है तो उन्हें गर्भपात जैसे सदमे का सामना करना पड़ सकता है|